Friday, July 19, 2024
Homeदेसी जुगाड़Kheti Jugaad: गांव कस्बे के शख्स ने कबाड़ स्कूटर के जुगाड़ किया...

Kheti Jugaad: गांव कस्बे के शख्स ने कबाड़ स्कूटर के जुगाड़ किया मिनी ट्रैक्टर का अविष्कार, देखे अद्बुद्ध वायरल जुगाड़

Kheti Jugaad: गांव कस्बे के शख्स ने कबाड़ स्कूटर के जुगाड़ किया मिनी ट्रैक्टर का अविष्कार, देखे अद्बुद्ध वायरल जुगाड़ सोशल मीडिया पर आये दिन खेती किसानी के जुगाड़ वायरल होते नजर आते है हाल ही में एक ऐसा अनोखा खेती का जुगाड़ सामने आया है जिसे देख आप भी कहोगे गजब आईये जाने इस अनोखे जुगाड़ के बारे में…

Kheti Jugaad: गांव कस्बे के शख्स ने कबाड़ स्कूटर के जुगाड़ किया मिनी ट्रैक्टर का अविष्कार, देखे अद्बुद्ध वायरल जुगाड़

यह भी पढ़े : – KTM और R15 को छोड़ Yamaha MT-15 की दीवानी हुई पापा की परियां, जाने स्टैंडर फीचर्स और पॉवर फुल इंजन

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ हम आपको बता दे की इस जुगाड़ के निर्माण करने वाले देव मंजन बैठा के खेत पश्चिम सिंहभूम जिले के मनोहरपुर पोटका में हैं। गरीब घर के लाल ने पुरानी मोटरसाइकिल और कबाड़ स्कूटर के पार्ट्स के जुगाड़ से बना डाला मिनी ट्रैक्टर , देखे ये अनोखा अविष्कार भारत देस की बात की जाए तो यह एक से बढ़ कर एक जुगाड़ बनाने में माहिर है आये दिन कई जुगाड़ के अविष्कार कर अपने गांव का नाम रोशन करते है।

यह भी पढ़े : – Apache और Pulsar का घमंड तोड़ने आयी TVS की स्पोर्टी लुक बाइक, जाने पॉवर फुल इंजन और कीमत

कबाड़ स्कूटर के पार्ट्स ने किया अनोखा जुगाड़

हम आपको बता दे की इस जुगाड़ को बनाने के लिए गांव कस्बे के शख्स ने काफी मेहनत करी है तब कहीं जा कर उसे सफलता हासिल हुई उसने इसे बनाने के लिए काफी लगन और मेहनत से काम किया बात की जाए इसे कैसे बनाया तो हम आपको बता दे की देव ने इसका निर्माण पुरानी मोटरसाइकिल, पानी के पंप और स्कूटर के पार्ट्स को जोड़कर किया है।

मिनी ट्रैक्टर के जुगाड़ में आया इतना खर्चा

दरसल इस शख्स की एजुकेशन की बात करे तो ये सिर्फ 10वीं पास हैं। घर की आर्थिक स्थिति खराब होने से वे आगे नहीं पढ़ पाए, तो खेती-किसानी करने लगे। इस मिनी ट्रैक्टर के निर्माण पर मुश्किल से 5000 रुपये खर्च हुए हैं। इससे लागत सीधे 5 गुना कम यानी 70-80 रुपए पर आ गई जानकारी के मुताबिक़ आपको बता दे की देव पिछले 9 सालों से इस मिनी ट्रैक्टर के जरिये कर रहे है खेती-किसानी वे पिछले 9 सालों से इस मिनी ट्रैक्टर के जरिये खेती-किसानी कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES