Wednesday, June 12, 2024
Homeअन्यएक जगह ऐसी भी जहा साल के 12 महीने बरसाती है ‘आग’,...

एक जगह ऐसी भी जहा साल के 12 महीने बरसाती है ‘आग’, नहीं रहते कोई इंसान, बहती है आग की नदी

एक जगह ऐसी भी जहा साल के 12 महीने बरसाती है ‘आग’, नहीं रहते कोई इंसान, बहती है आग की नदी, अफ्रीकी देश इथियोपिया में है यह जगह डानाकिल डिप्रेशन, जहा पे सबसे ज्यादा गर्मी होती है और इसे दुनिया में सबसे ज्यादा गर्म जगह के नाम से जाना जाता है यहां न सिर्फ सूरज आसमान से आग छोड़ता है, यहाँ की जो धरती है वह साल में 12 महीने बस आग से भरी होती है

12 महीने बरसती है आग

यह भी पढ़े –ऑफिस में ऐसे रखे अपना स्टाइल, बढ़ जायेगा आपका रुतबा, जानिए कैसे करे खुद को तैयार

धरती पर कई ऐसी जगहें हैं जो कभी रोमांचक तो कभी हैरान कर देने वाली होती हैं। वैसे तो दुनिया में ऐसी कई जगहें हैं जो देखने लायक हैं और अपनी खूबसूरती से मंत्रमुग्ध कर देती हैं, वहीं कुछ जगहें ऐसी भी हैं जिन्हें देखते ही आपके रोंगटे खड़े हो जाते हैं। इनमें से एक अफ्रीकी देश इथियोपिया है और एक इरिट्रिया में भी स्थित है। इस जगह को इस तरह से देखा जाता है कि ऐसा लगता है कि यह जगह धरती पर ही मौजूद नहीं है, बल्कि मानो हम किसी दूसरे ग्रह पर हों। इस जगह का नाम डानाकिल डिप्रेशन है और इसे दुनिया की सबसे गर्म जगह भी माना जाता है।

कम से कम 30-35 डिग्री के आसपास तापमान

यह भी पढ़े –ठण्ड में हार्ट बीट बढ़ना हो सकता है घातक परिणाम, जानिए इसे होने वाली बीमारी से कैसे बचे

यहां न सिर्फ सूरज आसमान से आग छोड़ता है, बल्कि यहां की धरती भी लगातार आग छोड़ती रहती है। बारिश नाम मात्र की होती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां पूरे साल तापमान कम से कम 30-35 डिग्री के आसपास रहता है और कहा जाता है कि यहां तीन टेक्टोनिक प्लेट्स की खोज की गई है। आपको यह समझना होगा कि सभी महाद्वीप और महासागर टेक्टोनिक प्लेटों पर स्थित हैं। जैसे-जैसे ये टेक्टोनिक प्लेटें एक-दूसरे से दूर होती जाती हैं, भूमिगत में हमेशा उथल-पुथल रहती है और ज्वालामुखी से लावा अक्सर फूटता रहता है, जिससे गर्मी और भी अधिक बढ़ जाती है।

जमीन से आग की नदी

यह भी पढ़े –लगा दिया नल में ये देसी जुगाड़ वाला बल्ब, लोग बोले कमाल का है ये जुगाड़

डानाकिल डिप्रेशन के बाद से बड़ी संख्या में ज्वालामुखी विस्फोट हुए हैं। यह एक सक्रिय ज्वालामुखी है इसलिए यहां कई गर्म झरने और झरने भी बनते हैं। लेकिन भीषण गर्मी के कारण यहां का पानी अक्सर सूख जाता है। जैसे ही वे जमीन से बाहर आते हैं, उन्हें तुरंत उच्च तापमान पर सुखाया जाता है। इसके कारण यहां नमक की कई खदानें बन गईं, जो डानाकिल डिप्रेशन के आसपास के लोगों की आजीविका का साधन हैं। ऐसा माना जाता है कि दसियों हजार साल बाद डानाकिल डिप्रेशन समुद्र की गहराई में डूब जाएगा। अब यह सिर्फ एक कल्पना है, लेकिन यहां तापमान इतना अधिक है और जमीन से आग की नदी बह रही है, ऐसा लगता है कि कुछ सौ वर्षों में यह जगह इंसानों के घूमने लायक नहीं रह जाएगी। चीजें हटा दो, वह जीवित रहेगी।

RELATED ARTICLES