Wednesday, June 12, 2024
HomeUncategorizedबन जाती है गिरगिट ये जहरीली मछली, जहर इतना खतनाक की होता...

बन जाती है गिरगिट ये जहरीली मछली, जहर इतना खतनाक की होता है जानलेवा

बन जाती है गिरगिट ये जहरीली मछली, जहर इतना खतनाक की होता है जानलेवा, आपने गिरगिट को रंग बदलते तो कई बार देखा होगा, लेकिन क्या आपने कभी गिरगिट मछली को देखा या उसके बारे में सुना है? समुद्र की गहराई में बिच्छू नामक एक दुर्लभ मछली रहती है जो गिरगिट की तरह रंग बदल सकती है।

मछलियों की हजारों प्रजातियां

यह भी पढ़े –आपको भी है पसंद पैक्ड फूड खाना तो हो जाइये सावधान, जान लेना है जरुरी यह हालत ख़राब कर देने वाले नुकसान

माना जाता है कि दुनिया भर में मछलियों की हजारों प्रजातियां हैं, जिनमें से कुछ को इंसान खा जाते हैं, जबकि कुछ को बेहद खतरनाक माना जाता है। उनसे उलझने का मतलब है कि आपकी जान ख़तरे में है। ऐसी ही एक मछली है बिच्छू, जो बहुत दुर्लभ लेकिन जहरीली होती है। इसके विषाक्त पदार्थ इतने खतरनाक होते हैं कि वे पीड़ितों को पंगु बना सकते हैं और यदि बड़ी मात्रा में शरीर में प्रवेश कर जाएं तो घातक भी हो सकते हैं।

वैज्ञानिक नाम स्कॉर्पिनोस्पिसिनोरिया

यह भी पढ़े –आपके हसीन हाथों से नहीं हटेंगी लोगों की नजारा, देखे यह नेल आर्ट डिजाइन और लगाने का तरीका

बिच्छू मछली का वैज्ञानिक नाम स्कॉर्पिनोस्पिसिनोरिया है। इस मछली की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह गिरगिट की तरह रंग बदल सकती है। शिकारियों से छिपने या शिकार करने के लिए यह रंग बदलता है। विशेषज्ञों का कहना है कि इस मछली की रीढ़ की हड्डी में जहर भरा होता है और इसे पकड़ते समय आपको बहुत सावधान रहना होगा, नहीं तो यह जल्दी ही जहर उगल देगी। इसके लीवर में न्यूरोटॉक्सिन होते हैं जो इसके शिकार को लकवा मार सकते हैं या मार भी सकते हैं। इस मछली को पहली बार भारत में 2020 में खोजा गया था।

बदलती है रंग

यह भी पढ़े –इस फूल में पाए जाते है औषधि गुण करता है बालों से जुड़ी समस्याओं को दूर, जाने इसके बेहतरीन फायदे

इसकी खोज सेंट्रल मरीन फिशरीज रिसर्च इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं ने मन्नार की खाड़ी में की थी। रंग बदलने के बाद वह घास के बीच में छिप गई, लेकिन जैसे ही वह घास से बाहर आई, उसका रंग बदल गया और वह काली हो गई। वैज्ञानिकों का कहना है कि जहरीली मछली समुद्र के अंदर पाई गई और फिर से जीवित हो गई। ये केवल रात के समय शिकार की तलाश में निकलते हैं। यह रंग बदलता है, घास या रेत में छिप जाता है और जब यह अपने शिकार को देखता है तो उस पर झपटता है और तुरंत उसे खा जाता है।

RELATED ARTICLES