Wednesday, April 24, 2024
Homeहेल्थठण्ड के समय में गले में हो सकता है टॉन्सिल का खतरा,...

ठण्ड के समय में गले में हो सकता है टॉन्सिल का खतरा, जानिए क्या है लक्षण और उपाय

ठण्ड के समय में गले में हो सकता है टॉन्सिल का खतरा, जानिए क्या है लक्षण और उपाय, सर्दियों के इस मौसम में, लोगों को गले में दर्द और खराश की समस्या हो जाती है। लेकिन यदि यह समस्या बनी रहे, तो इसे गंभीरता से लेना चाहिए। गले की समस्याएं विभिन्न बीमारियों के संकेत हो सकती हैं। चलिए जानते है

टॉन्सिल इन्फेक्शन

यह भी पढ़े – आप भी कम पैसों से अच्छा सामन खरीदना चाहते है तो जाएं लखनऊ के इन मार्किट में, और करे शादी की शॉपिंग

बदलते मौसम में गले में दर्द और खराश होने पर इसे अनदेखा न करें, क्योंकि यह टॉन्सिल इंफेक्शन का संकेत हो सकता है। टॉन्सिल गले में होते हैं और इन्फेक्शन से बचाव करते हैं, लेकिन इंफेक्शन होने पर यह गले में दर्द और कठिनाई का कारण बन सकता है। इसे नजरअंदाज न करें और चिकित्सक से सलाह लें।

गला लाल हो जाना

डॉक्टरों के मुताबिक, टॉन्सिल से बुखार और सूजन की समस्याएं हो सकती हैं, जिसके परिणामस्वरूप गला लाल हो सकता है और आवाज में बदलाव हो सकता है। छोटे बच्चों में यह समस्याएं गंभीर हो सकती हैं, और टॉन्सिल के कारण सांस लेने में परेशानी हो सकती है।

यह भी पढ़े – पार्लर में हो गई यह गलती तो पहुंच जाओगी हॉस्पिटल, हो सकता है सिंड्रोम, जानिए क्या है रिस्क

ठंडी चीजों से दूर

गले में सूजन के लक्षण होने पर ठंडी चीजों जैसे दही और आइसक्रीम से बचें, जंक फूड और बासी खाना न खाएं, ठंडा पानी न पिएं, और मसालेदार भोजन से परहेज करें। बच्चों के लिए सूजन और दर्द के साथ तुरंत चिकित्सक की सलाह लें। टॉन्सिल से बचाव के लिए रात में जौ भरी पानी पीने के साथ-साथ गले पर भी लगा सकते हैं, जिससे संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है।

टॉन्सिल से बचाव के उपाय

यह भी पढ़े –बच्चा बड़ा होने तक बच्चों में जरूर डालें ये महत्वपूर्ण आदतें, आगे नहीं आएंगी दिक्कतें

रात में एक गिलास पानी में जौ रख दें और अगले दिन सुबह उठकर उसको पी लें.

जौ को पीसकर आप गले पर भी लगा सकते हैं. इससे टॉन्सिल का संक्रमण कम होता है

RELATED ARTICLES