Wednesday, April 24, 2024
Homeदेसी जुगाड़Desi jugaad: गांव कस्बे के शख्स का खेती का जुगाड़ देख भौचक्के...

Desi jugaad: गांव कस्बे के शख्स का खेती का जुगाड़ देख भौचक्के रह गए लोग, देखे अद्बुद्ध जुगाड़…

Desi jugaad: गांव कस्बे के शख्स का खेती का जुगाड़ देख भौचक्के रह गए लोग, देखे अद्बुद्ध जुगाड़…सोशल मीडिया पर आये दिन कई जुगाड़ वायरल होते नजर आते है ऐसा ही एक इंजन के जुगाड़ से देसी ट्रैक्टर का अविष्कार सुर्खियों में छाया हुआ जिसे लोग दीवाने हो रहे है आईये जाने इस अद्बुद्ध जुगाड़ की कहानी के बारे में…

Desi jugaad: गांव कस्बे के शख्स का खेती का जुगाड़ देख भौचक्के रह गए लोग, देखे अद्बुद्ध जुगाड़…

किसान द्वारा कबाड़ की मदद से बनाए गए ट्रैक्टर की चर्चा आस पास के क्षेत्रों में हो रही है लोग उन्हें ट्रैक्टर बनाने का ऑर्डर तक दे रहे हैं यह खबर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है इंजीनियर भी किसान के जुगाड़ के आगे घुटने टेक दें

यह भी पढ़े : – लड़कियों का दिल जितने आया Oppo का 108MP कैमरे वाला सुपर स्मार्टफोन, जाने फीचर्स और कीमत

बिहार के गांव कस्बे के किसान ने कबाड़ से किया अनोखे ट्रैक्टर का अविष्कार

दरसल सोशल मीडिया पर एक खेती का जुगाड़ बड़े ही जोरो से वायरल हो रहा है जिसमे सीवान के फुलवरिया गांव के एक किसान ने अपना दिमाग लगा कर अनोखे देसी ट्रेक्टर का अविष्कार कर लिया है इस ट्रैक्टर को जुगाड़ से बनाने की जरुरत इसलिए उन्हें पड़ी क्योंकि उनको खेती करने में काफी दिक्कतें आती थी जिसकी वजह से उन्होंने इस देसी ट्रैक्टर का अविष्कार किया है।

यह भी पढ़े : – Creta को छोड़ मारुती की सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हो रहे बड़ी फैमिली के लोग, जाने दमदार इंजन और शानदार माइलेज

इंजन के जुगाड़ से किया देसी ट्रैक्टर का अविष्कार

हम आपको बता दे की इस अनोखा ट्रैक्टर को बनाने के लिए बिहार के शख्स ने इंजन का उपयोग किया है और इस जुगाड़ का अविष्कार करने के बाद में इस किसान की चर्चा आसपास के गांवों में होने लगी है उनकी इस जुगाड़ वाली ट्रैक्टर को देख लोग इसे अपने लिए बनावने का ऑर्डर भी दे रहे हैं।

फुलवरिया गांव कस्बे के शख्स ने किया अनोखे ट्रैक्टर का अविष्कार

हम आपको बता दे की बिहार के सिवान जिला के फुलवरिया गांव के रहने वाले विनोद के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो अपने लिए एक नया ट्रैक्टर ले सकें. उन्होंने सोच रखा था कि चाहे जो भी वो जाए उन्हें ट्रैक्टर का जुगाड़ करना है. उन्होंने अपने से ट्रैक्टर बनाने के लिए कबाड़ एकत्रित किया. उनके घर में एक पुराने ट्यूब बेल का मोटर रखा हुआ था उसी मोटर को उन्होंने इंजन में तब्दील करके  ‘350 एचपी’ का ट्रैक्टर बनाकर अपने सपने को सच साबित कर दिया।

RELATED ARTICLES